Fropper.com - no one's a stranger
Already a member? Login here  | Tour | Help  
in




Posted on: Mar 03, '09


 TIGER CATCH......


लखीमपुर खीरी की साउथ फारेस्ट डिविजन की भीरा रेंज में पिछले दो माह से आतंक का पर्याय बन चुके बाघ को 01.03.2009 की शाम को टैंकुलाईजर करके पिंजडे में कैद कर लिया गाया है. इस बाघ को चार मानव हत्ताये करने के जुर्म में मुख्य वन सरछक वन्यजीव वीके पट्नायक द्वारा मौत की सजा दी गई थी. इसके तहत चलाए गए मिशन टाइगर के तहत आज सुबह जब बाघ ने एक पड्डे का शिकार करके खाया ओर चला गाया इसके बाद की गई नाकाबंदी का परिनाम यह निकाला कि शाम को वह जब दूसरी बार मांस खाने आया तो पहले से घात लगाकर बैठे ड्ब्ल्यूटीआई के एक्सपर्ट डा अनजान तालुकेदार ने उसे टैंकुलाईजर गान से बेहोश कर दिया. इससे बाघ को मिलीं मौत की सजा उम्रकैद में बदल गई है. इस सफलता पर वन्यजीव प्रेमियों ने खुशी का इज़हार किया है. जबकि ग्रामीणों ने भी राहत की साँस ली है. 
चैनल: Blog, दुधवा दर्शनटैग्स: विविध डीपी मिश्रा



Tags: lakhempur tiger catch




Comments  [ 0 Comments ] [ Post your comment | Subscribe (?) ]

No comment received.
Want to comment on this post?

Register now, its FREE, and share your views.
Already a member? Login now.